Tagged: Meera par hindi kavita

0

मीरा – तुम मुझे बेहद पंसद हो Hindi Poetry

मीरा  तुम मुझे बेहद पंसद हो इसलिये नहीं कि तुम कृष्ण भक्त हो पसंद हो क्यूँकि स्त्री इतिहास में तुम एक सशक्त स्त्री हो महल बना पिंजरा सोने का सांमती युग की थी मनमानी...