love poetry in hindi for boyfriend

सुनो,
तुम मेरा खूबसूरत ख्वाब ही हो,
जिसे आंख बंद हो या खुली,
मैं देखती रहती हूँ,
तुम हकीकत हो या नहीं,
जब जगती हूँ तो
घंटो सोचती रहती हूँ..
क्या सच में होता है कोई तुमसा,
तुमसे बिना सवाल किए,
तुम्हीं से पूछती रहती हूँ..
जब भी देखूँ अपने आस पास
हमेशा सिर्फ तुमको पाती हूँ..
हकीकत से लेकर
मेरे ख्वाबों में तक हो तुम,
कैसे पा गया ये दिल तुमको,
हरदम यही खुद से पूछती रहती हूँ।
तेरे आंगन की खुशी नहीं हूँ मैं,
मगर मेरे दिल की खुशी हो तुम,
उस खुदा को क्या सूझी
जो जोड़ दिया तुमसे मुझे इस तरह,
उस खुदा से दुआ भी तेरे लिए करती हूँ,
जब भी सोचती हूँ कुछ अच्छा हो,
तेरा नाम सबसे पहले लबो पर पाती हूँ।

सुनो जान
नहीं पता कितना और कैसे
हाँ मगर मैं सखी मैं लता
बस तुम्ही से जिंदगी पाती हूँ।
तुम्ही को चाहती हूं।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *